देश भर में पिछले साल से जारी कोरोना का लहर इंजेक्शन के आने के बाद भी थमा नहीं है। देश के कई शहरों में फिर से कोरोना ने दस्तक दे दी है। इसी को देखते हुए बिहार की सरकार अब कोई लापरवाही नहीं बरतना चाहती है। बिहार में भी स्वास्थ्य विभाग और प्रशासनिक अधिकारी अलर्ट मोड पर है। परिवहन विभाग ने भी अपनी चौकसी बढ़ा दी है। बिहार के 38 जिलों में चेकिंग कराई जा रही है। इसमें बस कंडक्टर, ड्राइवर सहित यात्रियों पर कार्रवाई की गई है। इतना ही नहीं कोरोना गाइडलाइन्स का उल्लंघन करने वाले 436 लोगों से जुर्माने की भी वसूली की गई है।

बिहार परिवहन विभाग के सचिव के अनुसार विभाग की तरफ से सभी अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं और कहा गया है कि सार्वजनिक परिवहन के वाहनों में चालक तथा सवार सभी यात्रियों को मास्क लगाना अनिवार्य है। इसके बावजूद भी नियमों का उल्लंघन किया जाता है तो संबंधित सार्वजनिक वाहन को जब्त करने की कार्रवाई की जाएगी।

परिवहन विभाग के सचिव ने कहा कि कोरोना का कहर जारी है, और ऐसे में विशेष रूप से सावधानी बरतने की जरूरत है। देश के कई  राज्यों में करोना के केस में फिर वृद्धि देखी गई है इसीलिए मास्क को लेकर गंभीर होना होगा। सार्वजनिक वाहनों में इसका कड़ाई से पालन कराना होगा। बस और ऑटो में क्षमता से अधिक यात्रियों को लेकर चलने वालों पर भी कार्रवाई की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here