जदयू के दो दिवसीय कार्यकारिणी के बैठक में नीतीश कुमार के द्वारा दिए गए बयान के बाद बिहार में राजनीतिक सरगर्मी के साथ साथ विपक्षी पार्टी की उम्मीदों को भी पंख लग गया हैं. दरअसल, कार्यकारिणी की बैठक में नीतीश कुमार का यह कह देना कि दुश्मन और दोस्त का पता नहीं चल सका, जैसे बयान के बाद एक बार फिर बिहार काा सियासी पारा गरम हो गया है और विपक्षी दलों को फिर से सरकार बनाने की उम्मीद जग चुकी है.

इसी उम्मीद पर राजद के विधायक और पूर्व स्वास्थ मंत्री तेज प्रताप यादव ने दावा किया है कि इस साल यानि 2021 में बिहार में राजद की सरकार बन जाएगी.

तेज प्रताप यादव ने क्या कहा 

वाराणसी में बाबा काशी विश्वनाथ के मंदिर में दर्शन करने के बाद मीडिया से मुलाकात करते हुए तेज प्रताप ने कहा कि 2021 में हमारी सरकार आ रही है. शनिवार को जेडीयू कार्यकारिणी की बैठक में नीतीश कुमार के बयान कि दुश्मन और दोस्त का पता नहीं चल सका के जवाब में तेज प्रताप ने कहा कि यह लोग पूरी तरह से खत्म हो चुके हैं.

नीतीश सरकार के गिरने के सवाल पर पूर्व स्वास्थ मंत्री तेज प्रताप बोले कि गिर गई है सरकार. इसी बीच कोरोना वैक्सीन के 14 तारीख को पटना पहुंच जाने पर वैक्सीन लगवाने के सवाल पर पूर्व स्वास्थ मंत्री तेज प्रताप यादव ने  कहा कि पहले मीडिया के लोग वैक्सीन लगवा लें, क्योंकि मीडिया के लोग ग्राउंड में रहते हैं.

आपको बता दें, बिहार में सरकार गठन के 2 महीने पूरे हो गए जबकि बिहार में अबतक मंत्री मंडल का विस्तार नहीं हुआ है जिसके कारण बिहार में उहा पोह की स्थिति उत्पन्न हो गया है और इस वक़्त बिहार के भविष्य की  राजनीति  का अनुमान लगा पाना बेहद मुश्किल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here