बिहार के पूर्व स्वास्थ मंत्री और वर्तमान में हसनपुर के विधायक तेज प्रताप आज राजद के  प्रदेश कार्यालय पहुंचे जहां पर उनका स्वागत युवा राजद के प्रदेश अध्यक्ष के द्वारा किया गया हालाकि इस दौरान कार्यालय में रहने के बावजूद भी राजद प्रदेश अध्यक्ष तेज प्रताप यादव से मिलने नहीं पहुंचे , इसके बाद तेज प्रताप पुरी तरह से विभर गए और प्रदेश अध्यक्ष के मत्थे एक नया आरोप ठोप दिया ।

क्या है पूरा मामला

दरअसल हुआ यूं कि आज काफी समय के बाद तेज प्रताप यादव आज अपने कार्यालय पहुंचे थे और सीधे अपने रूम में चले गए। हालाकि इस दौरान उनके साथ युवा राजद के प्रदेश अध्यक्ष मौजूद थे लेकिन राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद तिवारी अपने रूम में होने के बाद भी तेज प्रताप यादव से मिलना मुनासिब नहीं समझा । जगदानंद तिवारी जब तेज प्रताप से मिलने नहीं पहुंचे तब तेज प्रताप यादव गुस्से से आग बबूला हो गए और मीडिया से बड़ी बात कह डाली।

इस पूरे प्रकरण के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए हसनपुर विधायक तेज प्रताप यादव ने कहा कि जगदानंद तिवारी के जैसे लोगों के कारण आज उनके पिता यानी लालू प्रसाद यादव बीमार है और दिल्ली स्तिथ एम्स में इलाजरत है।तेजप्रताप बोले-यहां जो आयेगा अप्वाइंटमेंट लेकर आय़ेगा. यहां जगदानंद का रूल नहीं चलेगा. आरजेडी के कार्यालय में कोई भी आ सकता है.

मुझे रिसीव करने बाहर क्यों नहीं निकले जगदानंद

तेजप्रताप बोले-पहले रामचंद्र पूर्वे प्रदेश अध्यक्ष थे. वे बहुत ठीक थे. मैं पार्टी के कार्यालय में आता था तो वे मेरा स्वागत करने बाहर आते थे. अब देखिये मैं पार्टी का माननीय विधायक हूं. हसनपुर का विधायक हूं. मुझे रिसीव करने जगदानंद सिंह बाहर क्यों नहीं निकले. यही स्थिति है पार्टी की. जगदानंद जैसे लोगों ने पार्टी को बर्बाद कर दिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here