हाल ही में इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप WhatsApp ने हाल ही में गूगल ड्राइव और iCloud पर सेव होने वाले चैट बैकअप के लिए एंड-टु-एंड एनक्रिप्शन जारी किया है। यानी आपकी व्हाट्सएप चैट अब और ज्यादा सुरक्षित हो गई हैं। अब WABetaInfo की एक ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी एक नए फीचर्स पर काम कर रही है, जिसका नाम व्हाट्सएप वॉइस ट्रांसक्रिप्शन फीचर (WhatsApp Voice Transcriptions) है। तो आइए जानते हैं क्या होगा यह फीचर:

WhatsApp का वॉइस ट्रांसक्रिप्शन फीचर
इस वॉइस ट्रांसक्रिप्शन फीचर का काम व्हाट्सएप पर भेजे जाने वाले वॉइस मैसेज के कॉन्टेंट को ट्रांसक्रिप्ट करने की सुविधा देगा। सीधे शब्दों में कहें तो व्हाट्सएप यूजर्स के वॉयस मैसेज को रीडेबल फॉर्मेट में बदल देगा। यानी आपको व्हाट्सएप पर वॉइस मैसेज के रूप में जो भी आया है, आप से Text फॉर्मेट में बदलकर दूसरों के साथ शेयर कर पाएंगे।

WABetaInfo का कहना है कि यह एक ऑप्ट-इन फीचर होगा, यानी अगर आप व्हाट्सएप को मैसेज ट्रांसक्रिप्ट करने की अनुमति देंगे, फीचर तभी काम करेगा। यह ठीक उसी तरह होगा, जैसे यूजर्स कैमरा और माइक्रोफोन की परमिशन व्हाट्सएप को देते हैं। ब्लॉग साइट का कहना है कि ट्रांसक्रिप्शन पाने के लिए यूजर्स के मैसेज व्हाट्सएप या फेसबुक के सर्वर पर नहीं भेजे जाएंगे। खास बात है कि यह काम Apple करने वाला है। दरअसल, व्हाट्सएप यूजर्स के वॉयस मैसेज को ट्रांसक्रिप्ट करने से एपल को अपनी स्पीच रिकग्निशन टेक्नोलॉजी को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी।

यह फीचर व्हाट्सएप के iOS ऐप के लिए डिवेलप किया जा रहा है और टेक्स्ट अपडेट के साथ बीटा टेस्टर्स के लिए उपलब्ध होगा। एंड्रॉइड ऐप के लिए व्हाट्सएप का वॉयस ट्रांसक्रिप्शन फीचर कब उपलब्ध कराया जाएगा, इस बारे में नहीं कहा जा सकता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here