1992 में आज ही के दिन उत्तर प्रदेश के अयोध्या में बाबरी मस्जिद का विध्वंस कर दिया गया था। जिस तरीके से एक धर्म विशेष के लोगों द्वारा मुस्लिमों के पौराणिक धार्मिक पूजा स्थल को ध्वस्त किया गया था उससे इसकी चौतरफा आलोचना भी हुई। कुछ लोग आज भी इसके विध्वंस की आलोचना करते हैं। आज बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी पर अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने इसके गिराए जाने पर ट्विटर पर अपनी टिप्पणी दी है।

अभिनेत्री ने ट्विटर पर लिखा, ‘चाहे जितनी लीपा पोती कर लो, भगवान का घर.. किसी के भी भगवान का घर तोड़ना पाप होता है।’ उनके इस ट्वीट पर यूजर्स भी जमकर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। ओनली तुषार नाम के एक यूज़र ने उन्हें रिप्लाई दिया, ‘सही कहा, यह बात मुसलमानों को पहले समझानी चाहिए थी आपको कि उन्होंने क्यों राम मंदिर तोड़कर बाबरी मस्जिद बनाई।’ आसिम सिद्दीकी ने लिखा, ‘राम मंदिर तोड़ते किसी ने नहीं देखा और बाबरी मस्जिद को शहीद होते पूरी दुनिया ने देखा है। केवल आरोप लगाने से काम नहीं चलेगा।’

श्रीकांत नाम के यूज़र लिखते हैं, ‘40,000 मंदिर तोड़े मुगल जिहादियों ने बस हमने अपने भगवान का घर वापस बना दिया और कुछ नहीं।’ राजीव तिवारी लिखते हैं, ‘एक दम सही कह रहीं हैं आप स्वरा भास्कर, बाबर ने भगवान का घर तोड़कर महापाप किया था।’ अयोध्यावासी नामक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया, ‘मेरे भगवान का घर तोड़कर अपने भगवान का घर बनाओगे तो मौका मिलते ही तुम्हारे भगवान का घर तोड़कर मैं वापस अपने भगवान का घर बना लूंगा।’

फलनवा नाम के एक यूज़र लिखते हैं, ‘बिल्कुल सही कहा आपने, नालायकों ने मथुरा और काशी में हमारे भगवान का घर तोड़ा है, एक न एक दिन हम उसे भी कारसेवा करके, वहां भी भगवान का घर जरूर बनाएंगे।’

आपको बता दें कि बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में पिछले साल ही सुप्रीम कोर्ट का फैसला आया था जिसमें बाबरी मस्जिद वाली विवादित जमीन पर रामलला विराजमान का हक़ माना गया। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली 5 जजों की स्पेशल बेंच ने यह फैसला सुनाया था। अब बाबरी मस्जिद की जगह हिंदुओं के भगवान, श्रीराम की विशाल मंदिर बनाई जा रही है। मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में ही 5 एकड़ ज़मीन देने का फैसला कोर्ट ने सुनाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here