भारत ने दुनिया की नंबर 1 T20 टीम को धूल चटाई

भारत ने वर्ल्ड की नंबर 1 T20I टीम इंग्लैंड को पांचवें मैच में पीटकर T20I सीरीज पर कब्जा जमा लिया है. टॉस जीतकर इंग्लैंड ने पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया. लेकिन ओपनिंग बैटिंग करने आए रोहित और विराट ने उनके इस फैसले को पूरी तरह से गलत साबित किया. दोनों ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए नौ ओवर में 94 रनों की साझेदारी कर डाली. रोहित शर्मा 34 गेंदों पर ताबड़तोड़ 64 रन बनाकर आउट हो गए. वहीं कप्तान कोहली 80 रन बनाकर नॉट आउट रहे.

जबतक रोहित क्रीज पर थे विराट कोहली दूसरे गियर में बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन रोहित के आउट होने के बाद किंग कोहली ने भी अपने हाथ खोलने शुरू कर दिये और इंग्लैंड के बोलरों की जमकर कुटाई की. भारत ने 20 ओवरों में विशाल 224 रन बना दिया जिसके जवाब में इंग्लैंड की टीम 188 रन ही बना सकी. भारत की तरफ से भुवनेश्वर कुमार ने कमाल की गेंदबाजी करते हुए अपने चार ओवर की स्पेल में मात्र 16 रन देकर दो अहम विकेट निकाले.

कोहली ने इससे पहले भारत के लिये T20I मैच में तीन साल पहले ओपन किया था. लेकिन इस निर्णायक मुकाबले में उनका ओपनिंग बल्लेबाजी करना मास्टर स्ट्रोक साबित हुआ.
पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर ने भी कोहली के इस फैसले को सराहा है. स्टार स्पोर्ट्स से बातचीत के दौरान इस महान बैट्समैन ने कहा कि
”आपके टीम के जो बेस्ट बैट्समैन हैं उन्हे T20 में ज्यादा गेंद मिलनी चाहिए. इस लिहाज से देखें तो कोहली का टॉप ऑर्डर में बैटिंग करना बेहद जरूरी है. मुझे लगता है कि KL राहुल का खराब फोर्म भी एक मुख्य कारण था कि कोहली को ओपनिंग करने आना पड़ा.”
टेस्ट क्रिकेट में 34 शतक ठोकने वाले गावस्कर ने इस मूव को सचिन से तुलना करते हुए कहा कि
”सचिन को भी जब मिडिल ऑर्डर से प्रोमोट कर ओपन करने का मौका मिला तो उनकी गेम और निखर कर सामने आई. सचिन के ओपन करने से भारतीय टीम को बहुत फायदा हुआ था. इसलिए ये साफ है कि आपके बेस्ट बैट्समैन को ज्यादा से ज्यादा गेंदें खेलनी चाहिए.
विराट कोहली इस सीरीज में अलग – अलग नंबर पर बैटिंग करते दिखे हैं. लेकिन इससे उनकी बैटिंग के अंदाज में कोई फ़र्क नहीं पड़ा है. पांच मैचों की सीरीज में किंग कोहली ने तीन अर्धशतक लगाया है. उनके इस प्रदर्शन के कारण उन्हें मैन ऑफ द सीरीज भी चुना गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here