बांकीपुर के विधायक और विस्तार के बाद मंत्री बने नितिन नवीन ने आज यानी गुरुवार को अपना पद संभाल लिया । पद संभालने से पहले नितिन नवीन बीजेपी प्रदेश कार्यालय पहुंचे और वहां पर पंडित दिन दयाल उपाध्याय के प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। नितिन नवीन मंत्री बनने के बाद अपने लाव लश्कर के साथ पथ निर्माण विभाग के कार्यालय में पहुंचे , जहां पर उनका स्वागत विभाग के प्रधान सचिव द्वारा किया गया।पदभार ग्रहण करने के समय मंत्री नितिन नवीन ने कार्यालय में पूजा पाठ और मंत्रोच्चारण करवाया.

पारदर्शिता के साथ समझौता नहीं : नितीन नवीन

पद संभालने के बाद मीडिया से बात करते हुए पथ निर्माण कार्य मंत्री नितिन नवीन ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि जिस पारदर्शिता से पिछले 15 सालो से वो लोगों कि सेवा में जुटे है, मंत्री बनने के बाद भी उसी तन्मयता और पारदर्शिता के साथ बिहार के विकास में अपना हाथ बताएंगे।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का जो आत्मनिर्भर बिहार बनाने का सपना है उसे पूरा करने की पूरी कोशिश करेंगे. इतना ही नहीं भाजपा ने जो बिहार की जनता से 19 लाख रोजगार देने का वादा किया है, उस वादे को पथ निर्माण विभाग की मदद से कितना पूरा किया जा सकता है, इस पर काम करेंगे हर दिन काम किया जाएगा।

पिता की तस्वीर के साथ पहुंचे कार्यालय

आपको बता दे नितिन नवीन पदभार ग्रहण करने अपने कार्यालय पहुंचे तो उनके हाथों में उनके पिता स्वर्गीय नवीन सिन्हा की तस्वीर थी। मीडिया को इस तस्वीर के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि पिता जी के संघर्ष की बुनियाद से उन्होंने बहुत कुछ सिखा है। उनकी ही तस्वीर को ऑफिस में रखकर वे बिहार के विकास के प्रति पूरी तरह से संकल्पित रहेंगे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here