बिहार में सरकार का गठन हो चुका है और नई सरकार अपने वादे के अनुरूप कार्य भी कर रही है हालाकि राजद अभी भी उम्मीद लगाए बैठी है कि बिहार में राजद का मुख्यमंत्री हो। इसी कड़ी में राजद का एक और बड़ा बयान सामने आया है।राजद द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि जनता दल यूनाइटेड में टूट होना तय है और पार्टी के विधायक पार्टी छोड़कर जल्द ही आरजेडी में शामिल होंगे. इस बार आरजेडी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने यह बयान दिया है. मृत्युंजय तिवारी ने चुनौती दी है कि जनता दल यूनाइटेड में टूट होना तय है, जदयू अपने विधायकों को बचा सकती है तो बचा ले.

दरअसल, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को आरजेडी नेता श्याम रजक के उस बयान को बेबुनियाद बताया था जिसमें उन्होंने दावा किया था कि जनता दल यूनाइटेड के 17 विधायक उनके जरिए आरजेडी के संपर्क में हैं और जल्द ही पार्टी में शामिल होंगे. नीतीश कुमार के इसी दावे पर मृत्युंजय तिवारी ने कहा है कि जनता दल यूनाइटेड में टूट होना तय है.

मृत्युंजय तिवारी ने कहा, ”मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि जनता दल यूनाइटेड में नहीं होगी टूट, मगर सहयोगी ने अरुणाचल में उनके विधायकों को लिया लूट. अब किस मुंह से नीतीश कुमार कह रहे हैं कि बिहार में उनकी पार्टी नहीं टूटेगी. जनता का साथ पहले ही नीतीश कुमार से छूट गया है. अब जल्द ही उनकी पार्टी में भी टूट होगी. नीतीश कुमार ने बिहार में आरजेडी के 5 एमएलसी को तोड़ा था, जिसका बदला बीजेपी ने अरुणाचल में ले लिया. जदयू अब बचने वाली नहीं है”

इससे पहले आरजेडी नेता उदय नारायण चौधरी ने नीतीश कुमार को ऑफर देते हुए कहा था कि अगर वह बिहार में तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बना देते हैं, तो 2024 में तमाम विपक्षी दल उन्हें प्रधानमंत्री उम्मीदवार बनाने पर विचार कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here