पटना स्मार्ट सिटी का एरिया बेस्ड डेवलपमेंट (एबीडी) मौजूूदा क्षेत्र के चारों तरफ बढ़ेगा। क्षेत्रफल दोगुना हो जाएगा। अभी करीब 3.3 वर्ग किमी क्षेत्र में स्मार्ट सिटी का एरिया है। विस्तार के बाद क्षेत्रफल करीब 7.18 वर्ग किमी हो जाएगा। सोमवार को स्मार्ट सिटी की 16वीं बोर्ड मीटिंग में एबीडी बढ़ाने सहित कई एजेंडों को मंजूरी मिली। नियम के तहत वर्तमान एबीडी के बाहर स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट की राशि खर्च नहीं करनी है।

ऐसे में संस्थागत विकास के लिए एबीडी का विस्तार जरूरी था। स्मार्ट सिटी बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के अध्यक्ष सह नगर विकास विभाग के प्रधान सचिव आनंद किशोर ने बैठक के बाद कहा कि अधिकारी मिशन मोड में सभी काम निबटाएं। लापरवाही की तो कड़ी कार्रवाई के लिए तैयार रहें। राज्य के चारों स्मार्ट सिटी की रैंकिंग में अविलंब सुधार लाना है। 2 महीने में 70% और चार महीने में 100% काम जमीन पर दिखे, यह तय करना है। एबीडी में 5 स्थानों पर पार्किंग बनाने का निर्णय हुआ।

मो. शमशाद स्मार्ट सिटी के सीईओ
पटना स्मार्ट सिटी के सीईओ के पद पर मो. शमशाद और मैनेजर फाइनेंस एंड प्रोक्यूरमेंट के पद पर संजय शर्मा की नियुक्ति की गई है। वर्तमान एबीडी के चारों तरफ के इन इलाकों तक फैलेगी स्मार्ट सिटी, अब 7.18 वर्ग किमी होगा एरिया

{गांधी मैदान क्षेत्र के सौंदर्यीकरण के लिए टेंडर का निर्देश। 50% राशि पर्यटन विभाग से लेने की मंजूरी। क्षेत्र में स्थित सभी सरकारी भवनों गोल घर, ज्ञान भवन, एसकेएम हॉल पर थीम आधारित लाइटिंग की जाएगी। मेगास्क्रीन एवं हैप्पी स्ट्रीट के साथ यह परियोजना पूर्ण होगी। {अंटा घाट सब्जी मंडी को व्यवस्थित कर आकर्षक और आधुनिक वेंडिंग जोन बनाने का निर्णय हुआ। फिलहाल वहां पर जो वेंडर हैं, उन्हें ही वेंडिंग जोन में जगह दी जाएगी। {बाकरगंज नाले को पाटकर उमा सिनेमा से अंटा घाट होते गंगा नदी तक सड़क बिछाई जाएगी, जिस पर हल्के वाहन चलेंगे। {अदालतगंज तालाब में बोटिंग लेजर लाइट शो एवं चिल्ड्रेंस पार्क की सुविधा।

Source – daily Bihar

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here