नेताजी सुभाष चंद्र बोस की आज 125वीं जयंती है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेताजी के पराक्रम को याद करते हुए नमन किया है. उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है कि महान स्वतंत्रता सेनानी और भारत माता के सच्चे सपूत नेताजी सुभाष चंद्र बोस को उनकी जन्म-जयंती पर शत-शत नमन. कृतज्ञ राष्ट्र देश की आजादी के लिए उनके त्याग और समर्पण को सदा याद रखेगा।

रामनाथ कोविंद ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए लिखा, नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 125वें जयंती वर्ष के समारोहों के शुभारंभ के अवसर पर उनको सादर नमन उनके अदम्य साहस और वीरता के सम्मान में पूरा राष्ट्र उनकी जयंती को “पराक्रम दिवस” ​​के रूप में मना रहा है. नेताजी ने अपने अनगिनत अनुयायियों में राष्ट्र रूप में मना रहा है. नेताजी ने अपने अनगिनत अनुयायियों में राष्ट्रवाद की भावना का संचार किया.

वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए लिखा है कि वो सही मायने में एक सच्चे नेता थे और  देश की एकता में काफी मजबूती से भरोसा करते थे. हमलोग नेताजी के 125वीं जयंती को देशनायक दिवस के रूप में मना रहे हैं.

बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती देशभर में भव्य स्तर पर मनाई जा रही है. बोस की जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बंगाल के दौरे पर रहगे।

केंद्र सरकार ने देश के प्रति नेताजी सुभाष चंद्र बोस की अदम्य भावना और निस्वार्थ सेवा का सम्मान करने और उन्हें याद करने के लिए सरकार ने देश की जनता विशेषकर युवाओं को प्रेरणा देने के लिए, हर साल 23 जनवरी को ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाने का फैसला किया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here