हाई लाइट्स

  • कल ही नेता प्रतिपक्ष ने सदन में उठाया था मामला
  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के 3 कर्मचारी गिरफ्तार नीतीश कुमार ने खुद की थी बोर्ड अध्यक्ष से बात

बीते दिन यानी शुक्रवार को सामाजिक विज्ञान विषय का प्रश्नपत्र लीक होने के मामले में जमुई पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की छानबीन में यह मालूम पड़ा कि जो प्रश्नपत्र लीक किया गया और बाद में वायरल हुआ वह जमुई के झाझा स्थित एसबीआई ब्रांच से बाहर आया था। दरअसल इस ब्रांच में रिजर्व रखे गए क्वेश्चन पेपर को ही वायरल किया गया था।

आपको बता दें कि पुलिस ने इस मामले में तत्काल कार्रवाई करते हुए रात के वक्त ही एसबीआई के बैंक कर्मी शशिकांत चौधरी और अजीत कुमार के साथ-साथ ब्रांच के स्वीपर विकास दास को गिरफ्तार कर लिया है। जांच के बाद यह बात सामने आई है कि बैंक के स्वीपर विकास ने प्रश्नपत्र लीक किया।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी विकास का कोई संबंधी इस बार मैट्रिक की परीक्षा दे रहा है।सबसे पहले उसने पेपर लीक किया और इससे व्हाट्सएप के जरिए शेयर किया। बाद में यह तमाम जगहों पर वायरल हो गया। इस पूरे मामले की जानकारी होने के बाद पुलिस की टीम एसबीआई की शाखा पहुंची और तीन आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार किया गया। बैंक में कैशियर के तौर पर काम करने वाले शशिकांत चौधरी और अजीत कुमार को गिरफ्तार कर थाने लाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here