लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और जमुई सांसद चिराग पासवान के पटना आने के बाद जब मीडिया ने उनसे केंद्र में मंत्री बनने पर सवाल किए तो चिराग़ पासवान ने मीडिया के सवाल को टाल दिया। लंबे समय के बाद राज्य के दौरे पर आए लोजपा प्रमुख ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा, ”केंद्र में सरकार ठीक चल रही है पर नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले बिहार मंत्रिमंडल के विस्तार की बहुत जरूरत है क्योंकि मंत्रियों के पास बहुत सारे विभाग हैं.”

नीतीश कुमार पर चिराग पासवान का हमला

चिराग़ पासवान ने पटना पहुंचते ही फिर एक बार नीतीश कुमार पर हमला बोला है । चिराग़ पासवान ने मीडिया समूह से बात करते हुए कहा कि बिहार में मंत्री मंडल विस्तार में देरी होने का मुख्य कारण नीतीश कुमार है। चिराग़ पासवान ने कहा कि ”हमारे मुख्यमंत्री के लिए राज्य नहीं, उनकी पार्टी सर्वोच्च प्राथमिकता रखती है.” उन्होंने कहा ”यह ऐसे समय में हो रहा है जब कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगड़ी हुई है और मुख्यमंत्री खुद गृह मंत्रालय संभाल रहे हैं।” लोजपा प्रमुख ने कहा ”हमने स्पष्ट कर दिया है कि जब तक यह नई सरकार छह महीने पूरे नहीं कर लेती हम कोई कदम नहीं उठाएंगे। इसके बाद इसकी उपलब्धियों और विफलताओं को ध्यान में रखते हुए हम अपना कार्यक्रम शुरू करेंगे।

कानून व्यवस्था पर खड़े किए सवाल

चिराग पासवान ने कानून व्यवस्था को लेकर बिहार सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि बिहार में कोई सुरक्षित नहीं है। चिराग पासवान छपरा में रूपेश सिंह के अवास पर पहुंचकर उनके परिजनों से मुलाकात की और उन्हें ढांढस बंधाया। उन्होंने कहा कि, “रूपेश की हत्या पटना के पॉश इलाके में हुई। जब उस इलाके में हत्या हो सकती है, तो बिहार में कोई सुरक्षित नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here