बिहार को कोरोना काल में किए गए सराहनीय कार्यों के लिए डिजिटल इंडिया अवॉर्ड से पुरस्कृत किया जाएगा. यह पुरस्कार देश के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद द्वारा दिल्ली के विज्ञान भवन में दिया जाएगा. इस दौरान केंद्रीय आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद भी मौजूद रहेंगे. आपको बता दे कि कोराना काल में बिहार सरकार द्वारा डिजिटल तरीके से लोगों को मदद पहुंचाने के लिए किए गए प्रयासों के लिए राज्य को यह पुरस्कार मिलेगा.

इस अवॉर्ड के लिए केंद्र और राज्य सरकारों के अलग अलग विभागों से 6 श्रेणियों में कुल 200 से अधिक आवेदन दिए गए थे, जिसमें बिहार के उत्कृष्ट कार्य को ध्यान में रखते हुए बिहार के मुख्यमंत्री सचिवालय, आपद प्रबंधन विभाग और एनआईसी को महामारी श्रेणी में प्रथम स्थान प्राप्त हुए है. बिहार सरकार द्वारा डिजिटल तरीके से किए प्रयासों को केंद्र सरकार ने सराहा है.

मोबाइल ऐप से 21 लाख लोगों को मिलीं थीं वित्तीय सहायता

कोरोंना महामारी को देखते हुए केंद्र सरकार द्वारा मार्च में लॉक डाउन की घोषणा कर दी गई थी . इस दौरान बिहार के लाखों लोग अपने परिवार और घर से दूर बाहर के राज्यों में फंसे हुए थे. इस परेशानी को देखते हुए राज्य के तत्कालीन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पहल करते हुए लोगों की जानकारी हासिल की और मोबाइल ऐप के जरिए 21 लाख से अधिक लोगों को आर्थिक मदद पहुंचाई गई. बिहार सरकार के आपदा पोर्टल को महा मारी में उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया गया हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here