इस वक्त एक बड़ी खबर सामने आ रही है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना से लड़ाई के बीच एक बड़ा कदम उठाया है. बिहार के मरीजों की जान बचाने के लिए सीएम नीतीश ने गुजरात से 14000 रेमडेसिविर इंजेक्शन लाने का आदेश दिया है.

रविवार को मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी गई कि बिहार में रेमडेसिविर इंजेक्शन की किल्लत को देखते हुए सीएम नीतीश ने बड़ा निर्णय लिया है. मुख्यमंत्री ने गुजरात के अहमदाबाद से स्पेशल प्लेन भेजकर 14000 रेमडेसिविर इंजेक्शन लाने का आदेश दिया है. इस ट्वीट में यह भी लिखा गया है कि जल्द से जल्द इस दवाई को बिहार लाया जायेगा. ताकि सही समय पर मरीजों को यह दिया जा सके और उनकी जान बचाई जा सके.

गौरतलब हो कि बीते दिन शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा था कि “कोरोना के कारण हमलोग मानवता पर आये अब तक के सबसे गंभीर संकट का सामना कर रहे हैं. इससे उबरने के लिए सरकार पूरी प्रतिबद्धता के साथ जरूरी उपाय कर रही है. इस जंग में आप सभी का सहयोग जरूरी है. कृपया जागरूक और सतर्क रहें, सकारात्मक सोच रखें, डॉक्टरों की सलाह और गाइडलाइंस का पालन करें.”

एक अन्य ट्वीट में सीएम ने संयम बरतने और स्वास्थ्यकर्मियों को सम्मान देने की बात कही. उन्होंने लिखा कि “कोरोना से उत्पन्न विकट समय में स्वास्थ्यकर्मी जिस प्रतिबद्धता के साथ सेवा देकर लोगों की जान बचा रहे हैं, उसके लिए वे अभिवादन के पात्र हैं. यह जरूरी है कि हम सब विपरीत परिस्थितियों में धैर्य बनाये रखें और डॉक्टरों व स्वास्थ्यकर्मियों को वह सम्मान प्रदान करें, जिसके वे हकदार हैं.”

आपको बता दें कि शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्ववीट कर कहा था कि राजधानी पटना स्थित इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान में सभी कोविड-19 के मरीजों का इलाज मुफ़्त में किया जाएगा. उन्होंने ये भी कहा कि चिकित्सीय सेवाओं और दवाओं पर हुए खर्च का वहन राज्य सरकार करेगी. बिहार के सभी जिलों के अस्पतालों में उपलब्ध वेंटिलेटर को शीघ्र क्रियाशील करने का निर्देश दिया है. यह कार्य सरकारी प्रयास अथवा निजी क्षेत्र की संयुक्त भागीदारी से सुनिश्चित किया जा सकेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here