गुडगांव – पद्मभूषण डॉ गोपालदास नीरज जी की पुण्य तिथि के उपलक्ष्य में लोक संस्कृति का आयोजन  किया गया।  जिसमें शाहजहांपुर से श्री अरविन्द पंडित जी ने अध्यक्ष की भूमिका निभाई ।

कविगणों में गाज़ियाबाद से शालिनी मिश्रा जी, अलीगढ से प्रमोद प्यासा जी, गुरुग्राम से मोनिका शर्मा मन जी, फरीदाबाद से प्रीति पाठक जी और उन्नाव से आदर्श सिंह राठौर जी की उपस्थिति रही, मंच के संचालन की ज़िम्मेदारी ख़ुद धर्मवीर शर्मा जी ने निभाई ।

शालिनी मिश्रा जी द्वारा माँ सरस्वती की वंदना पढ़कर कार्यक्रम की खूबसूरत शुरुआत की गयी। उसके बाद आदर्श सिंह राठौर जी ने नीरज जी की चर्चित पंक्तियों से शुरुआत करते हुए बेहद उम्दा ग़ज़ल कही और मंच पर उपस्थित सभी की वाह वाही लूटी। प्रीति पाठक जी ने   सुन्दर गीत की प्रस्तुति दी और सभी का मन मोह लिया और दर्शकों के ढेरों कमैंट्स आये ।

मोनिका शर्मा जी ने श्रृंगार से ओत प्रोत गीत पढ़ा, शालिनी मिश्रा ने हँसी मज़ाक का माहौल बनाते हुए हास्य और श्रृंगार से लिपटी हुईं रचनाएंँ पढ़ीं और मंच को नया रंग दे दिया।

अंत में कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे श्री अरविन्द पंडित जी ने डॉ गोपालदास नीरज जी की चर्चित पंक्तियाँ पढ़कर उनको याद किया और अपने छन्द एवं गीतों से मन मोह लिया । दर्शकों ने कमेट्स के माध्यम से काव्य पाठ की खूब सराहना की।

अरविन्द पंडित जी ने सभी के काव्य पाठ की समीक्षा करते हुए खूब सराहना की और अबको आशीर्वाद भी दिया।

अंत में लोक संस्कृति के संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री धर्मवीर शर्मा जी ने सभी का धन्यवाद प्रकट करते हुए संस्था के उदेश्यों के बारे में बताया कि ‘लोक संस्कृति’ संस्था साहित्य, कला, भारतीय संस्कृति एवं सामाजिक क्षेत्र में निरंतर कार्य कर रही है । कोविड-19 की स्थिति सामान्य होने पर संस्था द्वारा देश के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में साहित्यिक एवं सांस्कृतिक मंचीय आयोजन किये जायेंगे । देश के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में छुपे हुए नवोदित साहित्यकारों एवं कलाकारों को मंच के माध्यम से राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलवाई जाएगी । हिंदी को राष्ट्र भाषा का दर्ज़ा दिलवाने के लिए यथासंभव प्रयास किये जायेंगे एवं विलुप्त हो रही भारतीय संस्कृति को जीवित रखने के लिए संस्था द्वारा निरन्तर प्रयास किये जायेंगे ।

यह समस्त जानकारी लोक संस्कृति की राष्ट्रीय महामंत्री एवं मीडिया प्रभारी मोनिका शर्मा ‘मन’ जी द्वारा दी गयी।

रामा शंकर
बिहार/झारखंड
प्रभारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here