पटना: जनगणना देश के आबादी के साथ साथ स्थिति जानने का एक अच्छा माध्यम हैं ।इस बार की जनगणना कुछ अलग होने वाली है ,भारत में हर 10 वर्ष पर जनगणना कराई जाती है। पिछली जनगणना 2011 में हुई थी और इस बार की जनगणना 2020 में होने वाली थी, लेकिन कोरोना महामारी को देखते हुए 2020 में नहीं कराई जा सकी जो कि अब 2021 में कराई जाएगी सूत्रों के मुताबिक  जनगणना माई से जुलाई के महीने के बीच  कराई जाएगी इस बार जनगणना हर बार से अलग होगी इस बार जनगणना मोबाइल ऐप के माध्यम से होगी । जनगणना पेपरलेस कराने की कवायद शुरू कर दी गई हैं। जनगणना की तिथि 16 मई बताई जा रही है। जनगणना दो चरणों में  तथा 16 भाषाओं में होगी । जनगणना की पूरी प्रक्रिया में 8754 करो रुपए अनुमानित खर्च बताई जा रही है। 30 लाख से अधिक कर्मचारी इस जनगणना में भाग लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here